एशिया महाद्वीप का भूगोल


एशिया महाद्वीप

पृथ्वी पर भू-भाग की सबसे बड़ी इकाई को महाद्वीप कहते है. एशिया महाद्वीप और अन्य सम्पूर्ण पृथ्वी का स्थल क्षेत्र महाद्वीपों में बटा है, एशिया, यूरोप, उत्तरी अमेरिका, दक्षिणी अमेरिका, अफ्रीका, आस्ट्रेलिया, अन्टार्कटिका

 

एशिया महाद्वीप





एशिया शब्द की उत्पत्ति हिब्रू भाषा के आसु से हुई है. जिसका शाब्दिक अर्थ उदित सूर्य से है, यह सागर का सबसे बड़ा महाद्वीप है. सम्पूर्ण विश्व का 30 %.

यहाँ विश्व की लगभग 60% संख्या सर्वाधिक जनसंख्या वाला महाद्वीप निवास करती है.

एशिया में विश्व का सबसे ऊँचा पर्वत शिखर हिमालय पर्वतमाला श्रेणी का माउंट एवरेस्ट 8850 मी है, जो नेपाल में स्थित है, जहाँ इसे सागरमाथा के नाम से जानते है.

विश्व का सर्वाधिक विस्तृत पठार तिब्बत का पठार है, जो मध्य एशिया में 200000 वर्ग किमी क्षेत्र में विस्तृत है.

एशिया में विश्व का सबसे ऊँचा पठार पामीर है, जिसकी ऊँचाई 4875 मीटर है. इसी कारण पामीर को विश्व की छत कहते है.

एशिया में विश्व की सर्वाधिक जनसंख्या वाला देश चीन है.

एशिया में क्षेत्रफल की दृष्टी से सबसे छोटा देश मालदीव है.

एशिया में विश्व का सर्वाधिक जनसंख्या घनत्व वाला देश सिंगापुर है.

एशिया में सबसे लम्बी नदी यांगसी तथा अधिकतम गहराई मृत सागर 397 मी की है.

एशिया में फिलिपीन्स द्वीप समूह के पास विश्व का सबसे गहरा सागरीय गर्त प्रशांत महासागर में मेरियाना गर्त 11033 मी गहरा है.

विश्व की सबसे गहरी झील बैकाल झील धरातल से 1940 मी गहरा और समुद्र ताल से 1485  मी गहरा एशिया में स्थित है.

विश्व की सबसे बड़ी झील आंतरिक सागर केस्पियन सागर 371800 किमी क्षेत्र में विस्तृत एशिया महादेश में ही स्थित है.

एशिया में विश्व की सबसे अधिक ऊँचाई पर स्थित खारे पानी की झील पैगांग झील 4267 मी ऊँचा लद्दाख व तिब्बत में स्थित है.

एशिया महाद्वीप में विश्व का सर्वाधिक वर्षा वाला क्षेत्र मावसिनराम 11405 मि. मी मेघालय भारत में है. इससे पहले चेरापूंजी सर्वाधिक वर्षा वाला स्थान था.

एशिया में विश्व का सबसे लम्बा रेलवे प्लेटफार्म खंड्गपुर पश्चिम बंगाल भारत में स्थित है. इसकी लम्बाई 833 मी है.

एशिया महाद्वीप में स्थित चीन विश्व का सर्वाधिक मछली पकड़ने वाला देश है.

विश्व का सर्वाधिक समाचारपत्र पढने वाला देश हांगकांग है.

विश्व का सर्वाधिक डाकघर वाला देश भारत है.

प्रशांत महासागर में गिरने वाली एशिया की प्रमुख नदियाँ है. हाग्हो, आमूर, सिक्यांग और यांगटी सी क्यांग.

आर्कटिक माहासागर में गिरने वाली एशिया की प्रमुख नदियाँ है, जिसका मुहाना शीत ऋतू में जम जाता है. लीना, ओबे और येनेसी.

एशिया महाद्वीप

एशिया महाद्वीप

 

माउंट एवरेस्ट से सम्बंधित कुछ तथ्य

माउंट एवरेस्ट का नाम तत्कालीन भारत के महासर्वेक्षक सर जार्ज एवरेस्ट के नाम पर पड़ा जिन्होंने एवरेस्ट की अवस्थिति का पता लगाया. वे 1830 से 1843 ई तक भारत के महा सर्वेक्षक रहे.

विगत में माउंट एवरेस्ट को छोटी 15 कहा जाता था.

पर्वतमाला के आस पास के विभिन्न स्थलों के औसत मापन द्वारा 1954 ई में माउंट एवरेस्ट ऊँचाई 8848 मी आँकी गई थी.

नेशनल जियोग्राफिक सोसायटी ने जीपीएस उपग्रह के उपयोग द्वारा पाँच मई 1999 ई को एवरेस्ट की ऊँचाई 8850 मी होने की पुष्टि की है.

माउंट एवरेस्ट को तिब्बत में कोमोलग्मा बर्फ की देवी तथा नेपाल में सागरमाथा कहते है. इसे पृथ्वी का तीसरा ध्रुव भी कहा जाता है.

एडमंड हिलेरी और तेनजिंग नोरगे 1953 में माउंट एवरेस्ट की छोटी पर पहुँचे थे.

जुंको तबई पहली महिला है. जो एवरेस्ट पर 1975 ई में  छड़ी.

बन्छिद्र पाल पहली भारतीय महिला है जो 1984 में एवरेस्ट के शिखर पर पहुँची.

अप्पा शेरपा सर्वाधिक 18 बार मई 2008 एवरेस्ट पर पहुँचने में सफल हुए.

अमेरिका के टाम व्हाइटेकर पहले विकलांग व्यक्ति थे. जो 1998 में एवरेस्ट के शिखर पर पहुँचे.

भूमध्य सागरीय जलवायु के एशियाई देश साइप्रस, जॉर्डन, टर्की, इजराइल, लेबनान आदि.

एशिया में सर्वाधिक जूट और गन्ना उत्पादक देश क्रमशः बांग्लादेश और भारत है.

एशिया में सर्वाधिक जल विद्युत का विकास जापान में हुआ है.

एशिया का सबसे घना बसा द्वीप जावा है.

एशिया का सबसे बड़ा रेलमार्ग ट्रांस साइबेरियन रेल है. यह लेनिनग्राड से ब्लिडीवोस्टक तक जाता है. इसकी लम्बाई 9438 किमी है.

एशिया का सबसे बड़ा रबड़ उत्पादक व निर्यातक देश, थाईलैंड, मलेशिया और इंडोनेशिया है.

एशिया का सबसे अधिक टिन उत्पादक देश मलेशिया है.

एशिया का सबसे गर्म नगर जैकोबाबाद पाकिस्तान है.

लाल सागर और भूमध्य सागर को जोड़ने वाली नहर स्वेज नहर है.

एशिया में विश्व का सर्वाधिक जलयान बनाने वाला देश जापान है.

आर्कटिक और प्रशांत महासागर को जोड़ने वाला जलडमस्वरूप बेरिंग है.

जापान का नागासाकी शहर क्युंशु द्वीप पर स्थित है.

बेरिंग जलसन्धि अन्तराष्ट्रीय तिथि रेखा के समानांतर स्थित है.

विश्व में सिंचाई नहरों का सबसे बड़ा जाल पाकिस्तान में है.

म्यांमार अपने सुन्दर बौद्ध मंदिरों के लिए प्रसिद्ध है.

 

सम्बंधित पोस्ट

जियोग्राफी की जानकारी

indiahindiblog

India Hindi Blog हिंदी भाषी लोगो के लिए बनाया गया है, ये भारत के उन सभी लोगो के लिए है जो खुद ऑनलाइन पढ़ना चाहते है, अपने ज्ञान को बढाना चाहते है. हर तरह की जानकारियों से अपने आपको अपडेट रखना चाहते है. इसलिए हमारे द्वारा इस ब्लॉग को आपके लिए तैयार किया गया. आप इस ब्लॉग में सभी तरह की जानकारियों का ज्ञान ले सकते है. इस ब्लॉग में आपको चिकित्सा, टेक्नोलॉजी, खेल, सामान्य ज्ञान, इतिहास, अनमोल विचार, इन सभी का संग्रह आपके लिए यहाँ पर उपलब्ध है.

You may also like...

1 Response

  1. Ashok says:

    Rus ke bare me btaye

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *