खेल में करियर Many Career Opportunities


खेल में करियर

अगर आपकी खेलों में खास दिलचस्पी है तो आप इसे खेल में करियर के विकल्प के रूप में भी चुन सकते है.

खेलकूद में दिनभर व्यस्त रहें वाले बच्चो और युवाओं को यही कहते है कि तुम अपनी जिन्दगी बर्बाद कर रहे हो. यह बाते कहने की बाते अब पुरानी हो गई है. खेल अब करियर के नए आयाम विकसित कर रहे है. राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आये दिन होने वाले तरह तरह के मैच और प्रतियोगिताओ के कारण खेल, खिलाड़ी और उससे जुड़ें लोगों के सामने पैसा, ग्लेमर व पद सब कुछ हो सकता है. इन खेलों के कारण आज तरह-तरह के करियर और काम निकालकर सामने आ रहे है. खेल प्रबंधन खेलों का सामान तैयार करना. खिलाडियों को प्रशिक्षित करना, उनके खानपान और स्वास्थ्य की देखभाल का जिम्मा उठाना आदि कई क्षेत्रों में आप अपना करियर बना सकते है.



 

खेल पत्रकारिता में अपना करियर बनाये

खेल ने मिडिया के क्षेत्र में भी कई नए अवसर प्रदान किये है. कमेंटेटर, खेल लेखन और रिपोर्टर्स के लिए विशेष प्रशिक्षित युवाओं की जरुरत पड़ती है. ऐसे युवाओं की, जिन्हें खेल विशेष की समझ हो और उनमे लेखन व कम्युनिकेशन स्किल भी हों. प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया दोनों ऐसे लोगों के लिए अवसर मुहेया करा रहे है. खेलों के आकड़ों को जानने समझने वाले जानकारों की भी जरुरत पद रही है. हर दिन बनने वाले नए रिकार्ड्स की व्यवस्था रखने का काम भी सान्खिकीविदों को अवसर मुहैया करा रहा है.

 

स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में करियर

अगर आप खेल के साथ मनोरंजन भी पसंद करते है तो स्पोर्ट्स मैनेजमेंट जैसी फील्ड में करियर बना सकते है. आजकल ऐसे कई बड़े स्पोर्टस इवेंट्स होते है. जिनमे रिपोर्ट्स मेनेजर की भूमिका काफी अहम होती है. स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में विज्ञापन, बाजार, दर्शक, सुरक्षा आदि शामिल होती है.

खेल में करियर sports opportunities in india

खेल में करियर sports opportunities in india

स्पोर्ट्स मार्केटिंग में करियर

खेलों की सफलता का राज बाजार में छिपा है. बाजार के साथ खेल के गठबंधन में मार्केटिंग कैसे करनी है. यह कला जानना जरुरी है. इसे जानने वाले आज अपने करियर को इस क्षेत्र ने नए आयाम दे रहे है. खेलों की मार्केटिंग करके पैसा व पद दोनों हासिल किये जा सकते है.

 

 

स्पोर्ट्स एजेंट में करियर

किसी खिलाड़ी को आइकन कैसे बनाना है, उसकी ब्रांडिंग कैसे करनी है, यह काम भी करियर के तौर पर उभर रहा है, इसके अलावा खिलाडियों के लिए उनक खानपान भी काफी महत्वपूर्ण होता है. किसी भी चीज की कमी या अधिकता उनके स्टेमिना को प्रभावित कर सकती है. ऐसे में डाइटीशियन का रोल बढ़ जाता है, जैसे आप करियर के रूप में चुन सकते है.

 

फिटनेस एक्सपर्ट में करियर

स्पोर्ट्स पर्सन किसी एथलीट से कम नहीं होते है और अपनी इस खूबी का फायदा वह फिटनेस सेंटर या health क्लब में बतौर फिटनेस एक्सपर्ट के रूप में उठा सकते है. तेजी से भागती इस जिन्दगी में सभी को फिट रहने की चाह है जिसके चलते फिटनेस एक्सपर्ट भी अच्छा करियर हो सकता है.

 

साइकोलॉजिस्ट में करियर

खेलों में हार जीत के लिए खिलाडियों को स्वस्थ रखना बड़ी चुनौती है. स्वास्थ का एक पह्लू मनोविज्ञान से भी जुड़ा है. किसी खिलाड़ी को मैदान में जाने से पहले कैसे प्रेरित और प्रोत्साहित करना है. उसे प्रोत्साहित करना है. उसे मानसिक तौर पर मजबूत कर आत्मविश्वास के लिए साइकोलॉजिस्ट की जरुरत होती है.

 

स्पोर्ट्स टीचर में करियर

स्कूल में आजकल बच्चो की बेहतर ग्रोथ के लिए एक्स्ट्रा एक्टिविटिज पर विशेष रूप से ध्यान दिया जाता है. इसी के चलते स्कूलों में इन दिनों अच्छे स्पोर्ट्स टीचर की खूब डिमांड रहती है. स्पोर्ट्स में रूचि रखें वालों के लिए स्पोर्ट्स टीचर एक अच्छा करियर आप्शन साबित हो सकता है.

 

कमेंटेटर बनकर बनाये अपना करियर

स्पोर्ट्स एक विशेषज्ञता का क्षेत्र है. अगर आप खेलों के प्रति अपना पेंशन रखते है और किसी भी कारण की वजह से इसमें बतौर खिलाड़ी सफल नहीं हो सके तो आप खेल कमेंटेटर बन सकते है. केवल क्रिकेट ही नहीं बाकी अन्य खेलों में भी कमेंटेटर बनाया जा सकता है.

indiahindiblog

India Hindi Blog हिंदी भाषी लोगो के लिए बनाया गया है, ये भारत के उन सभी लोगो के लिए है जो खुद ऑनलाइन पढ़ना चाहते है, अपने ज्ञान को बढाना चाहते है. हर तरह की जानकारियों से अपने आपको अपडेट रखना चाहते है. इसलिए हमारे द्वारा इस ब्लॉग को आपके लिए तैयार किया गया. आप इस ब्लॉग में सभी तरह की जानकारियों का ज्ञान ले सकते है. इस ब्लॉग में आपको चिकित्सा, टेक्नोलॉजी, खेल, सामान्य ज्ञान, इतिहास, अनमोल विचार, इन सभी का संग्रह आपके लिए यहाँ पर उपलब्ध है.

You may also like...

1 Response

  1. Krishna says:

    Ji ya bahut achchi bat he jo ap se sikhne ko

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *