सूप के फायदे Soup Advantage Information


सूप के फायदे

सूप सेहत के लिए खजाना है, सूप के फायदे जानिये

सूप पेट की सफाई करने के साथ-साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का भी काम करते है.





सूप सब्जियों के उपयोग का बहुत बढ़िया तरीका है क्योकि अगर हम सब्जियों को पकाकर खाते है तो इसमें से कई पोषक तत्व नष्ट हो जाते है लेकिन सूप बनाते वक्त इनके पोषक पदार्थ और विटामिन सुरक्षित रहते है. सूप में मौजूद एन्टी ओक्सिडेंट रक्त में शर्करा के स्तर को सुधारते है. ये वजन को कम करने में भी सहायक होते है क्योकि इनमे बहुत कम केलोरी होती है. सूप, चाय और काफी से कहीं ज्यादा बेहतर होते है. सूप काफी आसानी से पच जाते है इसलिए ये स्वस्थ व्यक्तियों से लेकर मरीजों व बुजुर्गों के लिए भी काफी फाईदेमंद होते है. ये सूप पेट की सफाई करने के साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते है और कब्ज व यूरिन की समस्या जैसी तकलीफों को दूर करने का काम करते है.

 

टमाटर का सूप

टमाटर का सूप पचने के काफी आसान होता है जिससे पाचनतंत्र को मजबूती मिलती है. इसमें टमाटर उबला होता है जिससे उसके पोषक तत्वों में काफी इजाफा हो जाता है. इस सूप में लाइकोपिन होता है जो त्वचा के लिए मोइश चराईजर का काम करता है. इसे बनाना भी बेहद आसान होता है. रोजाना इसे पीने से पेट की तकलीफे जैसे  गैस , अफारा, कब्ज या अपच आदि दूर होती है और भूख न लगने वालों को भी काफी लाभ होता है. रोजाना एक कटोरी सूप पी सकते है.

सूप के फायदे

सूप के फायदे

मिक्स वेज सूप

कई सब्जियों जैसे टमाटर, पालक, मटर, लौकी आदि को मिलाकर बनाया गया सूप काफी फाईदेमंद होता है. यह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का काम करता है. इस सूप में एन्तिआक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में होते है. जो आपको तनाव और अवसाद होने से बचाते है. जॉब भी मिक्स सूप बनाये तो उसमे नमक और मिर्च का ही प्रयोग करे. जरुरत से ज्यादा मसालों से सूप का लाभ नहीं मिल पाता. जो लोग वजन कम करना चाहते है वे अपनी डाईट में एक कटोरी मिक्स सूप को जरुर शामिल कर सकते है.

 

पालक का सूप है असर दार

आतों की सफाई करने का काम पालक का सूप करता है. जिससे शरीर में मौजूद अपशिष्ट पदार्थ बहार निकल जाते है. लौह तत्व और केल्शियम से भरपूर यह सूप शरीर में खून की कमी नहीं होने देता. यह सूप गर्भवती महिलाओं और बच्चो के लिए काफी फाईदेमंद माना गया है. इस सूप में टमाटर को मिलाकर इसके पोषक तत्वों को बढाया जा सकता है. जिन लोगों को कब्ज की समस्या रहती हो वे डाईट में डाईटीशियन की सलाह से इस सूप की शामिल कर सकते है.

 

स्नेक्स की जगह सूप पिया करे

सुबह ११ – १२ बजे ब्रैकफास्ट और लंच के बीच और शाम में लंच व डिनर के बीच करीब छह बजे सूप लेना काफी फायदा पहुंचाता है. ये दोनों ही समय ऐसे होते है. जब हमें हल्की फुल्की भूख महसूस होती है. ऐसे में चिप्स, नुडल्स या दूसरे किस्म के स्नेक्स खाने से बेहतर है कि सूप पिया जाए. ध्यान रहे जब भी सूप बनाये तो इसे ढककर ही रखे. सूप बनाने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली सब्जियों को कभी भी फैक नही उन्हें फिर से आते में गुथकर पराठें बनाये जा सकते है.

 

सूप के फायदे में इन बातो का भी साफ़ ध्यान रखे

बाजार के पैकेट बंद सूप में प्रिजवेर्टिव होते है जो कि उनकी शेल्फ लाइफ बढ़ाने के लिए डाले जाते है, इनसे बचे. जब आप घर पर सब्जियों का सूप तैयार करे तो इसमें दूध या क्रीम न मिलाये क्योकि इससे कैलोरी की मात्रा बढ़ जाती है. सूप को गाढ़ा करने के लिए कॉर्नफ्लोर और मैदा मिलाने से बचे क्योकि ये सूप से होने वाले फायदों में बाधा पहुँचाते है.

indiahindiblog

India Hindi Blog हिंदी भाषी लोगो के लिए बनाया गया है, ये भारत के उन सभी लोगो के लिए है जो खुद ऑनलाइन पढ़ना चाहते है, अपने ज्ञान को बढाना चाहते है. हर तरह की जानकारियों से अपने आपको अपडेट रखना चाहते है. इसलिए हमारे द्वारा इस ब्लॉग को आपके लिए तैयार किया गया. आप इस ब्लॉग में सभी तरह की जानकारियों का ज्ञान ले सकते है. इस ब्लॉग में आपको चिकित्सा, टेक्नोलॉजी, खेल, सामान्य ज्ञान, इतिहास, अनमोल विचार, इन सभी का संग्रह आपके लिए यहाँ पर उपलब्ध है.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *